Welcome to egujaratitimes.com!

बैंक कर्मियों की राष्ट्रव्यापी हड़ताल 2 सितम्बर को

अहमदाबाद: देश में पूंजीवादी और कार्पोरेट कम्पनियों का समर्थन करने तथा श्रम कानून को कमजोर बनाती केन्द्र सरकार के संशोधन और बैंकिंग उद्योग में निजीकरण तथा मर्जर के विरोध में बैंक कर्मचारी दूसरी सितम्बर को राष्ट्रव्यापी हडताल पर उतरेंगे। एसोसिएट बैंक के मर्जर को एसबीआई के बोर्ड ने मंजूरी दिये जाने के कुछ दिनों में ही हड़ताल का ऐलान दिया गया और समूचे देश के लगभग सात लाख और गुजरात के 40,000 से अधिक बैंक अधिकारी और कर्मचारी हड़ताल में शिरकत करेंगे।
महागुजरात बैंक एम्प्लोयज एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी जनक रावल ने बताया कि बैंकिंग उद्योग में सरकार बैंक के निजीकरण कोन्सोलिडेशन और मर्जर की दिशा में संशोधन लागू करने निरंतर प्रयत्नशील हैं। रिजर्व बैंक ने अधिक निजी बैंक के लिए दरवाजे खोले है। स्माल बैंक और पैमेन्ट बैंक चालू करने के लिए बड़े कार्पोरेट गृह को लाइसेंस दिये गये हैं। बैंकिंग क्षेत्र को ज्यादा से ज्यादा से निजी पूंजी और एफडीआईको प्रोत्साहन दिया जा रहा हैं। मर्जर और कोन्सोलिडेशन के नाम पर बैंक बंद की जा रही हैं। एसबीआई के साथ मर्जर द्वारा अच्छा प्रदर्शन करते एसोसिएट बैंक बंद करने की गतिविधियां चल रही हैं। दूसरी तरफ बेड लोन का प्रमाण बढ़कर 13 लाख करोड पर पहुंचा हैं। दोषितो के खिलाफ सख्त कदम उठाकर पैसा रिकवर करने के बदले डिफोल्टर को अधिक से अधिक राहत प्रदान की जा रही है।

 

Gujarat's First Hindi Daily ALPAVIRAM's
Epaper

             
   

1

2

3

4

5

6

7

8

9

10

11

12

13

14

15

16

17

18

19

20

21

22

23

24

25

26

27

28

29

30

31

Gujarat's Popular English Daily
FREE PRESS Gujarat's
Epaper

             
   

1

2

3

4

5

6

7

8

9

10

11

12

13

14

15

16

17

18

19

20

21

22

23

24

25

26

27

28

29

30

31

Gujarat's widely circulated Gujarati Daily LOKMITRA's
Epaper

             
   

1

2

3

4

5

6

7

8

9

10

11

12

13

14

15

16

17

18

19

20

21

22

23

24

25

26

27

28

29

30

31

         

 

Contact us on

Archives
01, 02