Welcome to egujaratitimes.com!

सिम्फनी ने मार्च 2015 को समाप्त तीसरी तिमाही में किया शुद्ध लाभ 36.51 करोड़ रुपये

अहमदाबाद। दुनिया की सबसे बड़ी एयर कूलर कंपनी सिम्फनी लिमिटेड ने मार्च 2015 को समाप्त तीसरी तिमाही के लिए अपना शुद्ध लाभ 36.51 करोड़ रुपये होने की सूचना दी जो कि पिछले वित्त वर्ष 2013-14 की इसी तिमाही के 27.03 करोड़ रुपये से 35 प्रतिशत अधिक रहा। वित्तीय वर्ष 2014-15 की तीसरी तिमाही के लिए शुद्ध बिक्री 137.51 करोड़ रुपये रही जोकि पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में अर्जित शुद्ध बिक्री 113.29 करोड़ रुपये से 21 प्रतिशत अधिक रही। वित्तीय वर्ष 2014-15 की तीसरी तिमाही के लिए एबिटा (ईबीआईटीडीए - ब्याज, कर, मूल्यह्रास और परिशोधन पूर्व कमाई) मार्जिन 35 प्रतिशत पर स्थित था जबकि ईपीएस रुपये 10.44 पर था।
मार्च 2015 को समाप्त 9 महीनों के लिए, कंपनी ने 94.16 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया जोकि पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में अर्जित 66.14 करोड़ रुपये के शुद्ध लाभ के मुकाबले 42 प्रतिशत अधिक रहा। वित्तीय वर्ष 2014-15 के बीते नौ महीनों में शुद्ध बिक्री 391.63 करोड़ रुपये रही, जोकि पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में अर्जित 300.59 करोड़ रुपये की तुलना में 30 प्रतिशत से अधिक रही। वित्तीय वर्ष 2014-15 के बीते नौ महीनों के लिए एबिटा (ईबीआईटीर्डी) मार्जिन 33 प्रतिशत पर स्थित था जबकि ईपीएस 26.92 रुपये पर था।
कंपनी के वित्तीय प्रदर्शन पर टिप्पणी करते हुए सिम्फनी लिमिटेड के कार्यकारी निदेशक श्री नृपेश शाह ने कहा, ”स्वस्थ लाभप्रदता को बनाए रखते हुए सभी क्षेत्रों में आसपास स्वस्थ विकास किया गया है।” 5


गौतम हरि सिंघानिया फेरारी चैलेंज ईयू में पोडियम प्राप्त करने वाले पहले भारतीय बने

अहमदाबाद। गौतम हरि सिंघानिया, चेयरमैन व प्रबंध निदेशक, रेमण्ड लिमिटेड तथा फाउंडर चेयरमैन, सुपर कार क्लब, ने प्रतिष्ठित फेरारी इवेंट: फेरारी चैलेंज यूरोप चैंपियनशिप 2015 में अपनी प्रतिभागिता निभाते हुए मोन्जा, इटली में एक ऐतिहासिक डबल पोडियम फिनिश हासिल किया। इन्होंने रेस 1 व रेस 2 दोनो में अपनी श्रेणी कोप्पा शेल में तीसरा स्थान प्राप्त किया तथा क्रमशः चौथे व तीसरे स्थान के लिए क्वालिफाई किया। फेरारी चैलेंज यूरोप चैंपियनशिप 2015 इस माह में शुरु हुयी तथा इसका फेडरेशन ऑफ मोटर स्पोर्ट्स क्लब्स ऑफ इंडिया (एफएमएससीआई) द्वारा प्रचार भी किया गया।
अपने ऐतिहासिक विजय पर टिप्पणी करते हुए गौतम हरि सिंघानिया ने कहा, ‘‘इस प्रतिष्ठित फेरारी इवेंट के पहले रेस में ‘डबल पोडियम फिनिश’ को हासिल करना मेरे लिए एक गौरवशाली क्षण है। यह मेरे लिए एक स्वप्निल सप्ताहांत रहा है, क्योंकि यह एक बड़ी चुनौती थी तथा इसने मुझे चैंपियनशिप व वर्ल्ड फाइनल्स 2015 पर ध्यान केंद्रित करने में सहायता की है।’’
कोप्पा शेल श्रेणी में रेस 2 में इरिच प्रिनोथ ने थॉमस लोफ्लाड (स्टाइलेफ क्वाड्रा कोर्स) से बढ़त हासिल की, जबकि एक बार फिर केसेल रेसिंग के गौतम हरि सिंघानिया ने शानदार तरीके से अपना वाहन चलाया तथा तीसरा स्थान बरकरार रखा, जिसे उन्होंने पहले ही क्वालिफाइंग में अपने लिए हासिल किया था। प्रिनोथ ने लोफ्लाड से 1’’074 तथा सिंहानिया से 9‘‘600 के साथ विजय हासिल की।
कोप्पा शेल श्रेणी के अंतर्गत रेस 1 के पहले चरण में नाटकीयता देखने को मिली, जब इरिच प्रिनोथ (इनेको-एमपी रेसिंग) ने अपनी पोल पोजिशन का इस्तेमाल किया और बेल्जियम के जैक्स डुव्यर से बढ़त हासिल की, जबकि एक मात्र भारतीय ड्राइवर - गौतम हरि सिंघानिया इसके बाद तुरंत ही तीसरे स्थान पर पहुंच गये। 2014 कोप्पा जेंटलमेन विजेता फोन्स शेल्टेमा एक अन्य चालक से टकरा गये, जबकि रिक लोवाट ‘वैरिआंट डेला रोजिया’ में चक्करदार स्थिति में फंस गये और उन्हें विश्राम करना पड़ा। प्रिनोथ एवं केसल रेसिंग के दो ड्राइवर्स शीघ्र ही थॉमस लिंडरॉथ (बारोन सर्विस) तथा एरिक चेंग (एएफ कोर्स) के साथ शेष मैदान पर तीव्र गति से आगे बढ़ गये। आखिरी चरण के आखिरी कार्नर में तनाव कई गुना बढ़ गया, पैराबोलिका से गुजरते हुए आधे रास्ते पर प्रिनोथ का एक धीमी कार से वास्ता हुआ और उन्हें अपनी रफ्तार धीमी करनी पड़ी। डुव्यर, जिन्हंे कार्नर में सबसे तेज गति हासिल करने का मौका मिला, ने प्रिनोथ के दुर्भाग्य का तत्काल फायदा उठाया। उन्हें आसानी से आगे बढ़ने का अवसर मिला और प्रिनोथ पर 1‘‘624 तथा सिंघानिया पर 6’’118 की बढ़त के साथ विजय प्राप्त हुयी।
पूरे सत्र में एक वीकेंड में दो रेसों के साथ कुल 15 रेसेज शामिल थीं, यह सत्र 6 वीकेंड्स में फैला था, जो मुख्य रुप से मोन्जा (इटली), इमोला (इटली), मुगेलो (इटली), ले कास्टेलेट (फ्रांस), वैलेंसिया (स्पेन) तथा बुडापेस्ट (हंगरी) में आयोजित किया गया। यह वर्ल्ड फाइनल्स में परिणत होगा, जिसमें दिसंबर 2015 में तीन रेसेज शामिल होंगी, जहां पर एक रेस एशिया एवं उत्तरी अमेरिका के अन्य दो क्षेत्रों के साथ होगी। गर्ड में पिछले वर्ष के समान लगभग 40-50 कारें शामिल होंगी और वहां पर निश्चित रुप से कुछ स्पर्द्धी रेसिंग देखने को मिलेगी। 4

भारत के विद्यार्थी स्वयं सेवक प्रामेरिका स्पिरिट ऑफ कोम्युनिटी अवार्ड से सम्मानित

अहमदाबाद। 5वें वार्षिक प्रामेरिका स्पिरिट ऑफ कोम्युनिटी अवार्ड में कक्षा 6 से 12 के विद्यार्थियों को समग्र देश की 190 स्कूलों में से समाजसेवा के क्षेत्र में उनके किए गए प्रयास के लिए पसंद कर नई दिल्ली में आयोजित एक समारोह में बुलाया गया। फाइनल में पहुंचे इन विद्यार्थियों का चयन समग्र देश में से मिले 5 हजार से अधिक अर्जियों के आधार पर किया गया। चेतन भगत इस कार्यक्रम में मुख्य मेहमान थे।
यह प्रतिष्ठित अवार्ड समारोह का आयोजन डीएचएफएल प्रामेरिका लाइफ इन्स्योरन्स कंपनी यह प्रतिष्ठित अवार्ड समारोह का आयोजन डीएचएफएल प्रामेरिका लाइफ इन्स्योरन्स कंपनी लि. (डीपीएलआई) के स्पिरिट ऑफ कोम्युनिटी अवार्ड भारतीय चेप्टर द्वारा किया गया। यह संस्था युएस में समाजसवा के क्षेत्र में काम करने वाले विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करने वाली सबसे बडी संस्था है।
व्यक्तिगत श्रेणी का सर्वोच्च सन्मान दिल्ली की बाराखंभा रोड स्थित मोर्ड स्कूल के 12वीं कक्षा के विद्यार्थी ऋषभ अरोरा को ट्रेश ट्रेजर नामक प्रोजेक्ट के लिए दिया गया। इसमें घर में डाल देने की वस्तुओं से लोगों के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाया गया है। वहीं गुडगांव की अरवल्ली स्थित श्री राम स्कुल के कक्षा 8 के विद्यार्थी नीतिश साहनी ने वंचित वर्ग के कैंसर तथआ अपगंता से ग्रस्त बच्चों की सेवा करने के लिए सन्मानित किया गया। दोनों विजेताओं को स्वर्ण पदक, श्रेष्ठता का प्रमाणपत्र और प्रत्येक को रू 50 हजार का नकद इनाम भी दिया गया। इसके अलावा निर्णायकों ने राजस्थान की जैन गुरूकुल सीनियर सेकन्डरी स्कुल के नौंवी कक्षा के 5 विद्यार्थियों के समूह का चयन किया। उन्होंने बायोडायवर्सिटी और कन्जर्वेशन के बारे में लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए ग्रुप श्रेणी में अवार्ड दिया गया।
अवार्ड समारोह में फाइनालिस्ट को संबोधित करते हुए डीपीएलआई के एमडी तथा सीईओ अनुप पेबी ने कहा कि, इस प्रकार के अवार्ड के माध्यम से हम देश की नई पीढ़ी को उनके किए गए उत्तम कार्य के लिए उन्हें प्रोत्साहित करना चाहते है और उनकी पहचान बनाना चाहते है। यह लोगों को समाज के विकास और उसमें सुधार लाने का प्रयास किया है। 3

डेल की ओर से PowerEdge FX पोर्टफोलियो में तीन नए मोड्युअल की घोषणा

अहमदाबाद। दुनिया की अग्रणी इन्टीग्रेटेड आईटी कंपनी डेल की ओर से PowerEdge FX पोर्टफोलियो में तीन नए मोड्युल की घोषणा की गई है। जो संस्थाओं के कामकाज में सम्पूर्ण सहायक होगी। कंपनी की ओर से यह भी घोषणा की गई है कि इस महीने वह पावरएज सर्वर की 20वीं एनिवर्सरी मना रहा हे। जो एक क्रांति है और पिछले 20 वर्षों से ग्राहकों को सफलतापूर्वक सर्विस दे रही है।
पावरएज सर्वर की 20वीं एनिवर्सरी के बारे में चितल ने डेयरी के डायरेक्टर विश्वास ने बताया कि हम मिल्क प्रोडक्शन प्रोसेस में ओपरेशन और ओटोमेशन के मेसिव ग्रोथ के लिए प्लेटफोर्म का उपयोग कर रहे है। यह सर्वर हमें उच्च कार्यक्षमता, पर्फोमन्स और सरल संचालन देता है। आईडीसी के एन्टरप्राइज कोम्प्युटींग के रिसर्च मैनेजर गौरव शर्मा ने बताया कि पिछले वर्षों में सर्वर पोर्टफोलियों में डेल का काफी विकास हुआ है। यह सफलता पिछली कई पीढियों के किए गए इनोवेटीव और फ्लेक्सीबल आर्टिटेक्चर के कारण मिली है।
डेल सर्वर सोल्युशन के वाइस प्रेसिडेन्ट और जनरल मैनेजर आश्लेय गोरखपुरवाला ने बताया कि PowerEdge FX के साथ डेल ग्राहकों को उनके कारोबार की आवश्यकता को पूरा करने के लिए अधिक आजादी देता है। ग्राहकों को धंधा करने के लिए अधिक अच्छी क्षमता देने सर्वर, स्टोरेज, नेटवर्किंग और वर्कलोड के अंतर्गत समाधान दे रहा है।
डेल इंडिया के एन्टरप्राइज सोल्युशन ग्रुप के डायरेक्टर मनीष गुप्ता ने बताया कि पावरएज का मजबूत पहलू ग्राहकों की आवश्यकता के अनुसार और आईटी ट्रेन्ड के अनुसार तैयार की गई डिजाइन है।
डेल पावरएज एफएक्स के पोर्टफोलियो में तीन नए ब्लोक्स शामिल है। PowerEdge FD332, PowerEdge FC430 और PowerEdge FC830 PowerEdge FD332 हाफ विडथ स्टोरेज ब्लोक है। PowerEdge FC830 फुल विडथ हाफ हाइट 4 सोकेट सर्वर ब्लोक है। 2

इन्टरनेशनल एडीएफआईएपी अवार्ड 2014 में सिडबी को तीन श्रेणी में अवार्ड

अहमदाबाद। एसोसिएशन ऑफ डेवलपमेन्ट फाइनान्सियल इन्स्टीट्युशन्स इन एशिया एंड द पेसिफिक (एडीएफआईएपी) द्वारा विश्वभर में हर वर्ष डेवलपमेन्ट फाइनान्स इन्स्टीट्युशन्स (डीएफआई) को विविध कामकाज में मिली उपलब्धियां या लिये गए कदम के लिए इन्टरनेशनल एडीएफआईएपी अवार्ड दिया गया है। वित्तीय वर्ष 2014 के लिए एडीएफआईएपी की ओर स्मोल इन्डस्ट्रीज डेवलपमेन्ट बैंक ऑफ इंडिया (सिडबी) और फाइनान्सियल इन्कल्जुन में किया गया है। जो निम्न है। स्मोलबि.इन-युवा उद्योगसाहसिकता को प्रोत्साहन - श्रेणीः टेक्नोलोजी डेवलपमेन्ट, एचआर ओटोमेशन प्रोजेक्ट – श्रेणी टेक्नोलोजी डेवलपमेन्ट, पूएरेस्ट स्ट्टेस इन्क्लुजिव ग्रोथ (पीएसआईजी) प्रोग्राम – श्रेणीः फाइनान्सियल इन्क्लुजन।
यह अवार्ड 13 मई, 2015 को न्हा त्रांग, विजतनाम में आयोजित होने वाली 38वीं एडीएफआईएपी की वार्षिक बैठक में एडीएफआईएपी अवार्ड्स नाइट के दौरान विजेता (सिडबी) को दी जाएगी।  1

Gujarat's First Hindi Daily ALPAVIRAM's
Epaper

             
   

1

2

3

4

5

6

7

8

9

10

11

12

13

14

15

16

17

18

19

20

21

22

23

24

25

26

27

28

29

30

31

Gujarat's Popular English Daily
FREE PRESS Gujarat's
Epaper

             
   

1

2

3

4

5

6

7

8

9

10

11

12

13

14

15

16

17

18

19

20

21

22

23

24

25

26

27

28

29

30

31

Gujarat's widely circulated Gujarati Daily LOKMITRA's
Epaper

             
   

1

2

3

4

5

6

7

8

9

10

11

12

13

14

15

16

17

18

19

20

21

22

23

24

25

26

27

28

29

30

31

         

Contact us on

Archives
01,